July 16, 2024

PAN Aadhaar Not Linking – Mistake Of Income Tax Dept.

PN AADHAAR NOT LINKING
मोदी सर्कार द्वारा चलाए गई आधार पेन कार्ड लिंक प्रक्रिया 30 जून 2023 को बंद हो गयी | चूंकि आधर कार्ड बनवाने के लिए अंगुलियों के निशान और आँखों की पुतलियों की फोटो ली जाती है इस प्रक्रिया को अनेकों कानून के जानकारों ने भारत के कानून का उल्लंघन बताया है क्योंकि कानून के अनुसार इस कारण निजता के अधिकार का हनन बताया गया है (RIGHT TO PRIVACY FUNDAMENTAL RIGHTS ) जिसके अंतर्गत सरकारें भी किसी भी नागरिक को बाध्य नहीं कर सकती की वो अपने शारीरिक या निज़ी शारीरिक बनावट को सांझा करें | इस लिए यह मामला सुप्रिम कोर्ट मे भी अभी चल रहा है ,कुछ समय पहले सुप्रीम कोर्ट ने भी कहा कि आधर कार्ड को सरकारे ID. के रूप में बाध्य नहीं कर सकती बल्कि सर्कार के द्वारा सत्यापित अन्य ID जेसे की ड्राइविंग लाइसेंस , वोटर कार्ड इत्यादि भी उतने ही मान्य होंगे जेसे की आधर कार्ड | लेकिन बीच में ही मोदी सर्कार ने पैन कार्ड को आधार से लिंक करने की बाध्यता कर दिया जबकि अभी तक इस विषय पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला आना अभी भी बाकी है |
पेन आधार लिंक की प्रक्रिया पर अनेकों ग्रामीणों की नाराजगी की प्रतिक्रिया भी सामने आई है | अनेकों ग्रामीणों का कहना है की आधर कार्ड की बाध्यता ना होने की वज़ह अनेकों ने आधर कार्ड बनवाये ही नहीं | लेकिन जब मोदी सर्कार ने पैन आधार लिंक करने की बाध्यता कर दिया तो उन्होंने आधार बड़ी मुशिकल से आसपास के शहरों में जाकर आधार बनवाये और अब फिर से उन्हें परेशान किया गया आसपास के शहरों में जाकर उसे लिंक करवाने के लिए कारण की अनेकों ग्रामीण क्षेत्रों में लोग ऐसे हैं जिन्हें ऑनलाइन यह प्रक्रिया करनी ही नहीं आती | और तो और अब ग्रामीण क्षेत्रों में लोग इसलिए और नाराज़ हे क्योंकि उनसे रू 500 से रू 1000 मोदी सर्कार द्वारा वसूले जा रहे हैं आधार पैन लिंक के नाम पर |
इसी प्रकार सहरी छेत्री लोग भी इस प्रक्रिया से नाराज दिखाई दिए क्योंकि कइयों के रू. 1000 जमा करने के बावजूद आधार पैन लिंक नहीं हो रहे | शहरी पढ़े लिखे नागरिको का कहना है कि मोदी सर्कार द्वारा उनसे चोरों जैसा व्यावहार किया जा रहा है जबकि उनके पास ना तो टैक्स चोरी करने जितनी कमाई है और आधर कार्ड उनके निजता के अधिकार को भी खत्म कर्ता है जो की गैर कानूनी है |
अभी ताजा ख़बरों की बात करे तो ऑनलाइन पैन आधार लिंक की प्रक्रिया भी नहीं हो सक रही है क्योंकि इंकम टैक्स विभाग की वेबसाइट पर MAJOR HEAD 0021 लिंक जिसके अंतर्गत रू 1000 भुगतान करना है वो भी गायब है जो की विभाग के वेबसाइट की समस्या है |

Bureau

VOPGLOBAL

    Share